35.1 C
Varanasi

Chandauli news : मुगलसराय पुलिस ने पकड़ा 2 शातिर ठग, लग्जरी लाइफ के शौक ने बना दिया ठग

Published:

Chandauli news : मुगलसराय पुलिस व सर्विलांस टीम ने लोगों से करोड़ों रुपये ठगने वाले दो शातिर ठगों को गिरफ्तार किया. उनके पास से 40 लाख की लग्जरी कार व महंगे मोबाइल बरामद किए गए हैं. लग्जरी लाइफ का शौक पूरा करने के लिए दोनों शातिर ठग लोगों को अपना शिकार बनाते थे. पुलिस ने गिरफ्तार दोनों ठगों के खिलाफ फर्जीवाड़े से जुड़े धाराओं में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई में जुटी है.

विदित हो कि पीडीडीयू नगर निवासी सतीश कुमार गुप्ता ने पुलिस को तहरीर देकर बताया था कि उसकी मुलाकात अदलहाट बाजार में एक व्यापारी से हुई, जिसका नाम श्याम किशोर था. श्याम किशोर ने मोबाईल ट्रेड के बारे में बताया. सतीश को काम समझ में आ गया. वह मुगलसराय सहित कुछ अन्य जगहों के दुकानदारों से पैसा लेकर श्याम किशोर को दे देता था. श्याम किशोर व उसके साथी उन व्यापारियों को मोबाइल भिजवा देते थे. इस प्रकार से श्याम किशोर व उसके साथियों ने सतीश को विश्वास में लेकर एचडीएफसी नारायनपुर शाखा से लगभग दो करोड़ रुपये अपने खाते में समय-समय पर ट्रांसफर करवाए. वहीं खाते से कुछ अन्य व्यापारियों को मोबाईल खरीदने हेतु लगभग (2.5 करोड) ढाई करोड़ रुपये श्याम किशोर ने अपने साथी के अकाउन्ट में ट्रांसफर करवाए. इसके अलावा नकदी के रूप में भी लगभग ढाई करोड़ रुपये लिये थे.

बड़ी रकम लेने के बाद पिछले कुछ समय से श्यामकिशोर ने मोबाइल देना बंद कर दिया. इस पर सतीश को आभास हो गया कि उसके साथ धोखाधड़ी हो गयी है. पुलिस घटना की छानबीन कर रही थी इसी बीच मुगलसराय कोतवाल विजय बहादुर सिंह को सूचना मिली कि अभियुक्त श्याम किशोर वर्तमान में अपने आवास ग्राम तियरा थाना अदलहाट जनपद मिर्जापुर में मौजूद है. इस पर पुलिस एक्टिव हो गई. वहीं पुलिस टीम ने मिर्जापुर के अदलहाट थाना स्थित ग्राम तियरा अभियुक्त के आवास पर घेराबंदी करके घर के अंदर से दो मिले व्यक्तियों को पकड़ लिया. दोनों की पहचान श्याम किशोर मौर्या नन्द किशोर मौर्य बताया. 

आरोपितों ने बताया कि दोनों भाई मिलकर मोबाइल का कारोबार करते है. तलाशी के दौरान दोनों के पास से तीन मोबाइल बरामद किए गए. गिरफ्तार आरोपितों ने पूछताछ करने पर बताया कि दोनों भाई ने मिलकर इन्फेनेटिव मोबाइल एण्ड एक्सेसरीज नाम का एक फर्म मोबाइल सप्लाई करने के लिए बनाया है. इसके माध्यम से मोबाइल का व्यापार करने वाले व्यापारियों से मोबाइल सप्लाई देने के नाम पर करोड़ो रुपये लिये हैं. जून 2022 में लव जिन्दल पुत्र अनिल जिन्दल स्वदेशी इण्टर प्राइजेज वीआईपी रोड ओबरा से मोबाइल देने के लगभग नाम पर एक करोड़ रुपया लिया था. उसी रुपये से मैंनेलगभग 40 लाख रूपये का ग्लोस्टर कार क्रय किया है.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page