26.1 C
Varanasi

Chandauli news : पीएम मोदी ने डीएफसीसी का किया वर्च्युअल लोकार्पण, केंद्रीय मंत्री महेंद्र पांडेय ने दिखाई हरी झंडी

Published:

Chandauli news : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी से वाराणसी समेत पूर्वांचल को 19 हजार करोड़ रुपयों से ज्यादा की परियोजनाओं की सौगात दी. इस दौरान चंदौली के न्यू पीडीडीयू स्टेशन से न्यू भाऊ पुर स्टेशन के 402 किलोमीटर के फ्रेड कॉरिडोर का भी लोकार्पण शामिल है. डीएफसीसी का यह कॉरिडोर मालवाहक ट्रेनों के लिए डेडिकेटेड है. वाराणसी से वर्चुअल तौर पीएम मोदी ने इस ट्रैक पर पहली ट्रेन को हरी झंडी दिखाई तो चंदौली सासंद और केंद्रीय मंत्री महेंद्र नाथ पाण्डेय चन्दौली में मौजूद रहकर ट्रेन को हरी झंडी दिखाई. खास बात यह रही कि इस ट्रैक पर पहली ट्रेन को चलाने की जिम्मेदारी मुस्लिम महिला लोको पायलट को दी गई.जो सरकार की महिला सशक्तिकरण को दर्शाता है.

इस दौरान केंद्रीय मंत्री महेन्द्र नाथ पाण्डेय भी न्यू पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन पर मौजूद रहे. उन्होंने बताया कि 10 हजार 900 करोड़ की लागत से बना यह फ्रेडकोरिडोर भारतीय रेलवे के लिए बेहद महत्वपूर्ण कदम है. ईस्टर्न रेलवे के खुर्जा से सोननगर तक 1334 किलोमीटर के इस कॉरिडोर के बचे 402 किलोमीटर यानी न्यू पीडीडीयू स्टेशन से भाऊ पुर स्टेशन का आज लोकार्पण हुआ है. इससे पहले दो चरणों मे इस फ्रेड कॉरिडोर का रेलरुत देश को समर्पित किया जा चुका है. अब मालगाड़ियों के लिए बने 1334 किलोमीटर के डीएफसीसी पूर्वी फ्रेड कॉरिडोर पर हाई स्पीड से माल गाड़िया दौड़ेगी. जिससे देश के व्यवसायिक उद्देश्यों को समय से पूरा किया जा सकेगा.

महिला सशक्तीकरण का नजारा..

इस दौरान महिला सशक्तीकरण की नजारा भी देखना पड़ा.  इस लाइन खंड की पहली ट्रेन को चलाने की जिम्मेदारी महिला लोको पायलट को दी गई. महिला पायलट अमीना ने कहा कि यह उनके लिए गर्व का विषय है. मालगाड़ियों के लिए डेडिकेटड रुट से मेन पैसेंजर लाइन पर लोड कम हो जाएगा. जिससे पैसेंजर्स सुविधाएं बढ़ाई जा सकेगी. साथ ही ट्रेनों को समय से चलाने में आसानी होगी. मुस्लिम महिला लोको पायलट ने इसे महिला सषक्तिकरण का नतीजा बताया कि अब भारत की बेटियां मालगाड़ियों का परिचालन भी कर रही है.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page