36.4 C
Varanasi

कार्रवाई : शासनादेश की अवहेलना पर सीएमएस उर्मिला सिंह को फटकार, अब चकिया में देंगी सेवाएं…

Published:

Chandauli news : कुर्सी का मोह तो हर किसी को है, चाहे वह राजनीतिक पार्टियां हों या फिर नौकरशाही और अफसरशाही…लेकिन पं कमलापति त्रिपाठी जिला संयुक्त चिकित्सालय की चन्दौली सीएमएस रही उर्मिला सिंह को कुर्सी का ऐसा मोह हुआ की शासनादेश की अवहेलना करने से भी नहीं चुकी. सीएमएस और नोडल प्रधानाचार्य की कुर्सी पर जमी डा उर्मिला सिंह के 62 वर्ष की अवस्था पूरा करने के बाद शासन स्तर से जारी निर्देशों के बावजूद कुर्सी का मोह चिपकाए रहा. जिसकी शिकायत के बाद शासन की तरफ न सिर्फ फटकार लगाया गया बल्कि कार्रवाई के तौर पर जिला संयुक्त चिकित्सालय चकिया तबादला कर दिया गया.

दरअसल शासनादेश के तहत लेवल –04 तक के 62 वर्ष पूर्ण करने वाले ऐसे चिकित्सक जो प्रशासनिक पद पर कार्यरत हैं, उनके द्वारा जनपद के अप्रशासनिक पद पर योगदान किया जाएगा. लेकिन जिला अस्पताल की सीएमएस/ नोडल प्रधानाचार्य डा उर्मिला सिंह द्वारा प्रशासन स्वास्थ्य विभाग के महानिदेशक द्वारा जारी परिपत्र के निर्देशों की अवहेलना करते हुए पद पर कायम रहा गया. जबकि शासन स्तर ने सीएमएस/नोडल प्रधानाचार्य की जिम्मेदारी डा सत्यप्रकाश को सौंप दी थी.जिसकी शासन स्तर से शिकायत की गई.

बुधवार को महानिदेशक स्वास्थ्य प्रशासन ने शासन स्तर द्वारा जारी परिपत्र की अवहेलना और शासनदेशों की उदासीनता के तदर्थ डा उर्मिला सिंह को बकायदा पत्र जारी कर यह आदेशित किया गया है कि पत्र की प्राप्ति के पश्चात् एक कार्यदिवस के अंदर नोडल प्रधानाचार्य, बाबा कीनाराम स्वशासी राज्य चिकित्सा महाविद्यालय, चंदौली के पद का प्रभार नियमानुसार वरिष्ठतम चिकित्साधिकारी को सौंपे. साथ ही चकिया स्थित जिला संयुक्त चिकित्सालय जो 130 शैय्या का है उसमें अपना योगदान सुनिश्चित करें.जारी परिपत्र में महानिदेशक ने स्पष्ट रूप से उल्लिखित किया है कि आदेश के अनुपालन की दशा में आपके विरुद्ध विभागीय अनुसाशकीय कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page