21.1 C
Varanasi

Chandauli news : अपना दल एस ने उठाई यूनिवर्सिटी की मांग, किसान का बेटा बनेगा विद्वान

Published:

Chandauli : जिले में अपनी राजनीतिक ताकत का अहसास करा रही अपना दल (एस) मौजूदा हालात में उच्च शिक्षा के प्रति अपनी गंभीरता दिखाई है. मंगलवार को अपना दल एस के जिलाध्यक्ष उदित नारायण पटेल की अगुवाई में पार्टी पदाधिकारियों का प्रतिनिधिमंडल कलेक्ट्रेट पहुंचा. जहां एडीएम से मुलाकात कर पार्टी नेताओं ने चंदौली के विद्यार्थियों के लिए उच्च शिक्षा प्राप्त करने में आ रही दिक्कतों व समस्याओं पर चर्चा की. साथ ही उच्च शिक्षा के लिए विश्वविद्यालय बनाए जाने की मांग की. ताकि किसान का बेटा भी विद्वान बन सके.

उदित नारायण पटेल ने कहा कि चंदौली में कोई भी विश्वविद्यालय नहीं है. जिससे बहुत से गरीब बच्चे उच्च शिक्षा हासिल करने से वंचित रह जाते हैं, क्योंकि उन्हें दूसरे जिले में रहकर पढ़ने-लिखने के लिए आर्थिक रुप से सक्षम नहीं है. ऐसे में चंदौली में गरीब वर्ग के विद्यार्थियों के हितों को ध्यान में रखते हुए विश्वविद्यालय की स्थापना किया जाना बेहद जरूरी है.

उन्होंने कहा कि जनपद में कोई विश्वविद्यालय नहीं है, जिससे उच्च शिक्षा के लिए जिले के छात्रों को दूसरे जिलों में उच्च शिक्षा के लिए जिले के छात्रों को दूसरे जिलों में जाना पड़ता है। इससे उन्हें तमाम दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. हमारे जनपद में यदि विश्वविद्यालय बन जाता तो जिले में निवास करने वाले तमाम छात्रों को उच्च शिक्षा ग्रहण करने में बहुत ही सहूलियत हो जाती. वहीं हमारे जिले का शैक्षिक एवं वैश्विक विकास तेजी से होता.

उन्होंने सुझाव देते हुए कहा कि हमारे जिले के साहूपुरी क्षेत्र में बखरों, चौरहट, चांदीतारा, भुजहुआँ, खुटहाँ, पुरैनी समेत अन्य गाँव के किसानों की लगभग 350 एकड़ जमीन को सरकार द्वारा जुट मिल के लिए अधिग्रहण किया गया. लेकिन जुट मिल न बनाकर उस जमीन पर डालमियाँ ग्रुप द्वारा हरि फर्टीलाइजर नाम से उर्वरक की फैक्ट्री लगायी गई. यह फैक्ट्री कुछ दिन चलने के बाद बंद हो गई, लगभग तीन दशक से यह कम्पनी बंद हो गई है. ऐसे में सैकड़ो एकड़ की भू भाग का जन सरोकार के लिए इस्तेमाल किया जाना चाहिए.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page