12.4 C
Varanasi

Chandauli news : गूगल रीड अलोंग ऐप से बच्चों में जलेगी शिक्षा की अलग

Published:

Chandauli news : जिले के धानापुर ब्लाक में बाल विकास परियोजना कार्यालय पर गूगल रीड अलोंग 2.0 की दो दिवसीय कार्यशाला पिरामल फाउंडेशन और बाल विकास परियोजना के तत्वाधान मे आयोजित की गयी. कार्यक्रम की शुरुआत बाल विकास परियोजना अधिकारी वीरू मनी की अध्यक्षता में की हुई.

इस दौरान उन्होंने आंगनवाड़ी कार्यकत्री को बताया कि गूगल रीड अलोंग ऐप एक बुनियादी शिक्षा पर आधारित एप्लीकेशन है जो की  शिक्षा में बच्चों की मदद करता है. बताया कि समुदाय में सैम व मैम बच्चों को एनआरसी में अधिक से अधिक भर्ती करने व समुदाय आधारित गतिविधियों को सक्रिय तरीके करने के लिए अनुरोध किया.

कार्यक्रम मे सीनियर प्रोग्राम लीडर हेमन्त कुमार वर्मा ने बताया इस ऐप से निपुण भारत मिशन एवं बुनियादी शिक्षा अभियान के लक्ष्यों को ई-शिक्षा के द्वारा आसानी से प्राप्त किया जा सकता है. यह बच्चों में पठन, भाषा का ज्ञान व रोचक गतिविधियों पर आधारित खेल जैसे उल्टा-पुल्टा, पढ़ो फटाफट, गुब्बारा फोड़ो और अक्षर जोड़ शब्द बनाना शामिल है, जो बच्चों को पढ़ने और समझने में सहायता करता है.

इस ऐप में हिंदी और अंग्रेजी भाषाओं के साथ-साथ अन्य भाषाओं में भी 1000 से ज्यादा कहानियां और खेलों के साथ गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है. यह ऐप निःशुल्क है. ऐप डाउनलोड कर जिले में चल रहे बुनियादी शिक्षा अभियान से जोड़ने के लिए राज्य का पार्टनर कोड बीएसएयूपी001 डालकर अभियान से जुड़े.

उक्त कार्यक्रम में गांधी फैलो पूजा शर्मा ने बताया कि यह ऐप बच्चों भाषा के कौशल को बढ़ाता और बच्चों की क्षमता और रुचि के अनुसार पढ़ने मे मदद करता है. इसमें सही से पढ़ने पर सितारे इनाम के रूप में  मिलते हैं. साथ ही गलत उच्चारण करने पर दिया. बच्चों को सही बोलने के लिए मदद करती है,उसे फिर से पढ़ने का अभ्यास कराया जाता है. कार्यक्रम में बाल विकास परियोजना अधिकारी, मुख्य सेविका, सविता, मीरा और शकुंतला आदि उपस्थित रही.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page