30.1 C
Varanasi

पूर्व विधायक मनोज अमड़ा उपकेंद्र अपग्रेडेशन मुद्दे पर हुए मुखर, भाजपा की डबल इंजन सरकार पर साधा निशाना, डीएम से पहल की मांग दोहराई….

Published:

Chandauli news : सैयदराजा के पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू रविवार को अमड़ा विद्युत उपकेंद्र के दौरे पर रहे. इस दौरान उन्होंने जिलाधिकारी चंदौली निखिल टीकाराम फंडे को उपकेंद्र की क्षमता वृद्धि कर 132 केवी पावर हाउस बनाने की आवश्यकताओं पर बल दिया. कहा कि वर्ष 2016 में उद्घाटित 132 केवी अमड़ा पावर हाउस की क्षमता वृद्धि केंद्रीय मंत्री डा.महेंद्रनाथ पांडेय व स्थानीय विधायक के दो कार्यकाल में नहीं हुआ. ऐसे में अब अमड़ा विद्युत उपकेंद्र को जिलाधिकारी चंदौली ही 132 केवी में अपग्रेड कर आत्मनिर्भर बनाने की पहल करें.

बयान देते पूर्व विधायक मनोज सिंह यादव

उन्होंने बताया कि वर्ष 2016 में उन्होंने अमड़ा विद्युत उपकेंद्र को अपग्रेड कर 132 केवी करने की योजना का उद्घाटन किया था, लेकिन आठ वर्ष बीतने को है, और 20 बार सर्वे हो चुका है, लेकिन कार्य अभी तक नहीं हुआ. बीते दिनों गर्मी के मौसम में जिलाधिकारी चंदौली ने अमड़ा विद्युत उपकेंद्र का दौरा किया था, उस वक्त स्थानीय लोगों व किसानों को आस जगी की अब विद्युत उपकेंद्र की क्षमता वृद्धि हो जाएगी. लेकिन गर्मी, बरसात के साथ ही ठंड बीतने वाली है, लेकिन उपकेंद्र को 132 केवी में अपग्रेड करने का कोई भी काम नहीं हुआ. पूरा मामला ठंडे बस्ते में डाल दिया गया.

ऐसे में आज एक बार फिर डीएम चंदौली को इसकी याद दिलाने का काम हो रहा है. ताकि अमड़ा विद्युत उपकेंद्र को बिजली के लिए आगे आने वाले दिनों में गाजीपुर जनपद पर निर्भर न रहना पड़े. बताया कि 132 केवी अमड़ा विद्युत उपकेंद्र होने के बाद क्षेत्र स्थित 14 कैनालों को संचालित होने के लिए पर्याप्त विद्युत आपूर्ति हो सकेगी. साथ ही क्षेत्रीय लोगों को लो वोल्टेज की समस्या से निजात मिलेगी. इसके अलावा विषम स्थिति में दूसरे उपकेंद्रों को आपूर्ति करने की निर्भरता अमड़ा विद्युत उपकेंद्र के पास होगी. लेकिन यह सबकुछ तभी संभव है जब अमड़ा उपकेंद्र को 132 केवी की क्षमता से लैस किया जाएगा.

पूर्व विधायक मनोज ने कहा कि विधायक रहते हुए 16 विद्युत उपकेंद्र स्थापित कराने का काम किया. लेकिन केंद्रीय मंत्री व सांसद के अलावा स्थानीय विधायक का दूसरा कार्यकाल चल रहा . बावजूद इसके दोनों डबल इंजन की सरकार में एक भी पावर हाउस स्थापित कराने में नाकाम रहे. इस अवसर पर संतोष उपाध्याय, लालता कन्नौजिया, गौरव सिंह, अखिलेश सिंह, सूर्यपाल सिंह, अभिनव सिंह भल्ला, अजहर आदि उपस्थित रहे.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page