40.1 C
Varanasi

Loksabha election 2024 : मुगलसराय में आयोजित हुई इंडिया गठबंधन की बैठक, संविधान और आरक्षण विरोधी सरकार को उखाड़ फेंकने का लिया संकल्प

Published:

The News Point : लोकसभा चुनाव की तारीख जैसे जैसे नजदीक आ रही है, सियासी सरगर्मी बढ़ती जा रही है. सभी को जोड़ने की कवायद भी तेज हो गई है. इसी क्रम में मुगलसराय में कांग्रेस और सपा की समन्वय बैठक आयोजित की गई. जिसमें INDIA गठबंधन के प्रत्यासी को जिताने की अपील की गई.

इस दौरान कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव एवं प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडेय ने इंडिया गठबंधन की समन्वय बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि वर्तमान सरकार दलित, किसान और अल्पसंख्यक विरोधी है. इस सरकार के मुखिया कहते कुछ और करते कुछ है. लोकसभा का यह चुनाव संविधान बचाने और देश के भविष्य को बचाने का चुनाव है. पूरा अर्थतंत्र कारपोरेट के हवाले कर के प्रतिनिधित्व के नाम पर  मिले आरक्षण को समाप्त किया जा रहा है. जिससे दलितों , पिछड़ों और अल्पसंख्यको का आने वाले दिनों में भारी नुकसान होने वाला है.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता राहुल ग़ांधी ने देश मे हजारों किलोमीटर की पैदल यात्रा करके आम आदमी का दुःख दर्द जाना , समझा तथा राष्ट्र की बेहतरी के लिए लोगो से सुझाव माँगा. उसी के आधार पर पांच न्याय की गारंटी आधारित कांग्रेस का मेनीफेस्टो बनाया. न्याय की गारंटी को विश्वास में लेकर हम जनता के बीच मे आये है. जिसे देश भर में भारी समर्थन मिल रहा है,जिससे यह सरकार डरी हुई है और प्रतिशोध में विपक्ष के नेताओ को डरा धमका रही है, उन्हें जेल भेज रही है ताकि  विपक्ष मुक्त भारत  हो सके.

कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव एवं छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री राजेश तिवारी ने कहा कि भाजपा की सरकार तानाशाही की सरकार है. आये दिन इनके नेता संविधान एवं प्रजातंत्र विरोधी बयान देते रहते है. लोकसभा का यह चुनाव लोकतंत्र की परीक्षा है. सरकार की गलत नीतियों के चलते लोग बेरोजगारी और महंगाई से परेशान है. जबकि सरकारी आंकड़े इसके ठीक उलट बताए जा रहे है. यदि यही हाल रहा तो देश का भविष्य गर्त में चला जायेगा.

इस अवसर पर गठबंधन से सपा प्रत्याशी वीरेंद्र सिंह ने कहा कि यह चुनाव फासिस्टवादियो के विरुद्ध चुनाव है. आज देश का किसान, मजदूर , दलित और महिलाएं गरीबी और बेरोजगारी की मार तो झेल ही रही है. यह लोग अत्याचार का आये दिन शिकार भी हो रहे है. प्रदेश सरकार के फैसले जनविरोधी है.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page