36.4 C
Varanasi

राजनीति : 7 साल पुराने मामले में मनोज सिंह डब्लू को मिली जमानत, भाजपा पर साधा निशाना, सुनिए क्या कहा..

Published:

The News Point : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव व पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू 2017 के मामले में सुनवाई के दौरान एमपीएमएलए कोर्ट में पेश हुए. इस दौरान कोर्ट ने मामले की सुनवाई के बाद सपा नेता मनोज सिंह डब्लू को जमानत पर रिहा कर दिया. कोर्ट से बाहर आने के बाद सपा नेता ने इसे राजनीति से प्रेरित करार देते हुए भाजपा सरकार पर निशाना साधा.

उन्होंने बताया कि 2017 के चुनाव के दौरान उनके खिलाफ एनसीआर दर्ज हुआ था, जिसमें चुनाव के दौरान सपा नेता आजम खान के कार्यक्रम में आमजन की उपस्थिति के लिए मैसेज के जरिए निमंत्रण दिया था. इस मामले में स्थानीय प्रशासन ने अनुमति नहीं लेने का हवाला देते हुए एनसीआर दर्ज किया था. लेकिन 7 साल बाद इस मामले में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट/एमपीएमएलए की ओर से सपा नेता को जमानती वारंट जारी करते हुए मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट में उपस्थित होने के आदेश दिया गया. इसी क्रम में शनिवार को मामले की सुनवाई के दौरान सपा नेता मनोज सिंह डब्लू कोर्ट में उपस्थित हुए. उनके पक्ष से अधिवक्ता अजय मौर्या ने कोर्ट में सपा नेता का पक्ष रखा. सुनवाई के बाद कोर्ट ने मनोज सिंह डब्लू को जमानत दे दी.

पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू ने बताया कि उनके ऊपर आरोप है कि 2017 में चुनाव के दौरान उन्होंने अमरवीर इंटर कालेज में आजम खान की जनसभा में उपस्थित होने के लिए मोबाइल से मैसेज किया गया था. जिसके लिए निर्वाचन विभाग से परमिशन नहीं लिया गया था. इसका संज्ञान लेते हुए एनसीआर दर्ज किया गया गया था. आज इस मामले में पेशी पर आया हूं.

वहीं कोर्ट में पेशी के बाहर आने के बाद सपा नेता ने कहा कि भाजपा सरकार पर निशाना साधा. कहा कि की 2017 के मामले में 2019 और 2022 में नहीं सामने आया. शिकायत के 6 साल बाद 2024 में वारंट जारी किया जा रहा है. लेकिन शासन प्रशासन के तमाम कोशिश के लिए बावजूद मनोज सिंह डब्लू की आवाज को दबाया नहीं जा सकता. जनहित के मुद्दों को लेकर आगे भी मुखर रहूंगा. मुकदमों की फेहरिस्त में डरने की मजबूत बनूंगा. भाजपा के पाप का घड़ा भर चुका और यह चुनाव बाद देश में भाजपा की सरकार बदलने जा रही है.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page