36.1 C
Varanasi

श्री सेवा संस्था के अध्यक्ष सतीश जिंदल ने दिखाई मानवता, कहा – नर सेवा ही नारायण सेवा

Published:

Chandauli news : कहते है नर सेवा ही नारायण सेवा होता है. मुगलसराय में इसकी बानगी भी देखने को मिली. श्री सेवा सामाजिक संस्था की तरफ से सड़क दुर्घटना में घायल युवक का न सिर्फ समुचित इलाज कराया, बल्कि संस्था के संस्थापक अध्यक्ष सतीश जिंदल उसका सहारा बनकर भी खड़े है. शनिवार को दुर्घटना में घायल जरूरतमंद को ट्राई साइकिल प्रदान किया.

दरअसल 4 माह पूर्व चकिया के बरौझी गांव निवासी 22 वर्षीय कीर्तन पासवान सड़क दुर्घटना में घायल हो गया था. गरीबी और घर का इकलौता कमाने वाला होने के चलते 15 दिनों तक इलाज के लिए इधर-उधर भटकता रहा. इस बीच मीडिया के माध्यम से संस्था को इस घटना और उसके लाचारगी का पता चला.

जिसके बाद संस्था के अध्यक्ष सतीश जिंदल ने संज्ञान लेते हुए घायल युवक को बीएचयू ट्रॉमा सेंटर वाराणसी में निजी खर्चे से लगभग डेढ़ लाख रुपए में ऑपरेशन कराया. साथ अन्य जरूरत का ख्याल रखा. आज वह पूरी तरह से स्वास्थ्य तो है, लेकिन पैरों से चलने में लाचारी है. उसे एक ट्राई साइकिल की सख्त जरूरत थी.उसकी मां ने शासन प्रशासन से मदद की गुहार लगाई. लेकिन कामयाबी नहीं मिली.

जिसके बाद एक बार फिर संस्था ने मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाया और शनिवार को उसे ट्राई साइकिल प्रदान कर जिंदगी को आसान बनाने में मदद की. संस्था के अध्यक्ष सतीश जिंदल अपनी टीम की तरफ से शनिवार को ट्राई साइकिल उसके आवास बरौझी में जाकर प्रदान किया. जिससे परिजनों में हर्ष की लहर दौड़ गई. परिजनों इस इस संस्था की सेवा के लिए विशेष आभार प्रकट किया.

इस दौरान संस्था के अध्यक्ष सतीश जिंदल ने कहा कि मानव सेवा करना सबसे बड़ा पुनीत कार्य है. यही मानव सभ्यता का असली धर्म है. सभी को अपनी क्षमता के अनुसार असहाय लोगों की मदद करनी चाहिए. सतीश जिंदल ने बताया कि संस्था की स्थापना कोरोना काल में गरीबों, असहायों ,जरूरतमंदों की सेवा के लिए की गई थी. लेकिन यह संस्था लोगों की मदद का एक जरिया बन गया है जो बदस्तूर जारी है. अब तक संस्था 30 लाख रुपए से ज्यादा रकम लोगों की मदद के लिए खर्च किया गया. जिसमें गरीब और असहाय मरीजों का ऑपरेशन, इलाज के अलावा शादी विवाह व रोजगार के लिए आर्थिक सहयोग किए गए. लोगों की सेवा का क्रम आगे भी जारी रहेगी.

संस्थापक अध्यक्ष सतीश जिंदल ने बताया की श्री सेवा सामाजिक संस्था लोगों के सहयोग से संचालित होती है. इस संस्था को 70 से ज्यादा सदस्यों का सहयोग प्राप्त होता है. समय-समय पर यह हमें आर्थिक सहयोग देते रहते हैं. जिनके भरोसे पर ही हम ऐसे नेक कार्य कर पा रहे है. इस दौरान संस्था के मंत्री आलोक सिंह, प्रवक्ता आशा राम यादव, संजय राय, आशीष कुमार लक्ष्य, राजकुमार जायसवाल, सुमित शर्मा सहित कई लोग शामिल रहे.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page