36.4 C
Varanasi

मतदान के लिए अधिग्रहित बस चालक की मौत, साथी  ड्राइवरों ने किया चक्काजाम

Published:

The news point (चंदौली) – मतदान के लिए अधिग्रहित वाहन के चालक की गर्मी के बीच दुर्व्यवस्था के चलते मौत हो गई. ड्राइवर की मौत से आक्रोशित अन्य ड्राइवरों ने नेशनल हाइवे जाम कर हंगामा करने लगे. सूचना के बाद मौके पर पहुँचे उप जिला निर्वाचन अधिकारी अभय कुमार पांडे एडिशनल एसपी विनय कुमार सिंह ने मामले को शांत कराया. वहीं जिलाधिकारी निखिल टीकाराम फुंडे ने कहा कि चालक के परिजनों को शासन की ओर से सभी सुविधा मुहैया कराई जाएगी. पुलिस शव का पोस्टमार्टम कर रही है और आगे कार्रवाई की जाएगी.

बताते हैं कि 1 जून को होने वाले मतदान के लिए 31 मई को नवीन मंडी परिषद से पोलिंग पार्टियों रवाना होगी. पोलिंग पार्टी के रवाना लिए अधिकृत की गई गाड़ियों के ड्राइवर को पानी न मिलने के कारण इस तपिश भारी धूप में बृहस्पतिवार को चकियां के कौड़िहार गांव निवासी पत्तू राम 55 वर्ष चालक की हालत बिगड़ गई. इसके बाद साथी चालकों ने उसे उपचार के लिए जिला अस्पताल ले गए  जहां उसकी मौत हो गई है. इसको लेकर मंडी के पास हाईवे को जाम कर मुआवजे की मांग की जा रही है. वहीं मौके पर जिलाधिकारी वह एसपी को बुलाने की मांग पर अड़े रहे. इससे काफी देर तक नेशनल हाईवे जाम रहा. दोनों तरफ वाहनों की लंबी लाइन लग गई.

जानकारी के बाद मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक विनय कुमार सिंह एवं क्षेत्राधिकार सदर सहित सदर कोतवाली की पुलिस पहुंच गई है. लोगों ने समझा बूझकर किसी प्रकार मामलों को शांति कराया और जिलाधिकारी ने चालक के परिजनों को निर्वाचन आयोग की गाइड लाइन के हिसाब 15 लाख मुआवजा व सरकारी लाभ देने का आश्वासन दिया. इसके बाद जाम समाप्त हुआ. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज अग्रिम कार्रवाई में जुट गई.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page