36.4 C
Varanasi

Chandauli news : सूर्योपासना का महापर्व उगते सूर्य को अर्घ्य देने के बाद हुआ संपन्न 

Published:

Chandauli news : सूर्य उपासना के महापर्व डाला छठ पर श्रद्धालुओं ने उदयाचल सूर्य को अर्घ्य देकर सोमवार को चार दिवसीय व्रत का पारायण किया. भोर में ही नदी, तालाब के तटों पर अर्घ्य देने के लिए व्रती महिलाओं की भीड़ जुटी. भोर में अर्घ्य देने के बाद घाटों पर आतिशबाजी की गई. वहीं घाटों पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया. व्रत के समापन के बाद प्रसाद पाने के लिए लोगों की भीड़ जुटी. वही सकलडीहा विधायक प्रभु नारायण सिंह यादव ने भी भगवान सूर्य को अर्घ दिया. इसके अलावा अपने-अपने क्षेत्र में प्रमुख लोगों ने सुख शांति और खुशहाली के लिए भगवान भास्कर को अर्घ्य देकर डाला छठ के पावन पर के भागीदार बने.

डाला छठ के अंतिम दिन भोर में ही उठ कर व्रतियों ने  स्नान-ध्यान किया और घाट पर जाने की तैयारी की. कई घरों में तो पूरी रात ही  तैयारी होती रही और गीतों और भजन से घर गुलजार रहा. व्रतियों के साथ  परिवार के सदस्य भी जागकर घाट पर जाने की तैयारी में जुटे रहे. भगवान  भास्कर को अर्घ्य देने के लिए व्रतियों ने सूप और दउरी में फल, पूजन  सामग्री, फूल माला, धूप, दीप, पान सुपाड़ी आदि सजाया. इस दौरान पूरा परिवार के साथ व्रती नंगे पैर गंगा घाटों की ओर निकले. पुरुष सदस्यों ने माथे पर दउरी रखी, तो किशोर ने गन्ने को कंधे पर सजाया और व्रती महिलाएं हाथ में कलश और उस पर जलता दीपक लेकर समूह में गीत गाते हुए, गांव के पोखरा और तालाबों के साथ गंगा घाट की ओर चलीं.  इसी क्रम में मुख्यालय स्थित सावजी के पोखरे, प्राचीन काली माता मंदिर, नरसिंहपुर खुर्द, जगदीश सराय सहित तमाम ग्रामीण अंचलों में सुबह उठकर भगवान भास्कर को व्रती महिलाओं ने अर्घ देकर पुत्र की दीर्घायु की कामना की.

चकिया के ददरा ग्राम प्रधान पति ने व्रतियों में किया फल वितरण

वहीं छठ पूजा के अवसर चकिया के ददरा ग्राम प्रधान प्रतिनिधि धीरेन्द्र यादव (पप्पू) ने हर साल की भांति इस साल भी छठ कर रही व्रतियों में फल वितरण किया. साथ ही उदयाचगामी सूर्य को अर्घ्य देकर गांव की खुशहाली की मंगल कामना की.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page