27.1 C
Varanasi

Chandauli news : हत्या या हादसा, उलझी मौत की गुत्थी

Published:

Chandauli : 15 सितंबर को संदिग्ध परिस्थितियों में घायल युवक की उपचार के दौरान तीनों दिनों बाद बीते सोमवार को मौत हो गयी। घटना के बाद पुलिस शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम हाउस ले आई, जहां परिजन युवक की मौत को हत्या करार देते हुए पंचनामा पर दस्तख्त करने से मना कर दिया और हंगामा करने लगे। परिजनों का आरोप है कि उक्त मामले में पहले धीना और अब धानापुर पुलिस लीपापोती कर रही है।

पुलिस कार्यप्रणाली से खफा परिजनों ने टेलीफोन के जरिए सपा के पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू को सूचना दी। इसके बाद सपा नेता तत्काल पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे और उन्होंने परिजनों की शिकायत को सुनने के बाद एसपी डा. अनिल कुमार से बातचीत की और मृतक परिजनों की बात को उनके समक्ष रखा। मांग किया कि प्रकरण की निष्पक्ष जांच कराई जाए। साथ ही शव का पोस्टमार्टम डाक्टरों का पैनल बनाकर किया जाए और वीडियो रिकार्डिंग हो।

पूर्व विधायक ने कहा कि परिजन यह बता रहे हैं कि तीन दिवसीय बाबा कीनाराम जन्मोत्सव के अंतिम दिन नवमी बिंद अपने एक साथी के साथ बाइक से रामगढ़ कीनाराम मठ गया था, जो वापस नहीं लौटा। परिजनों को वह गंभीर रूप से घायल अवस्था में मिला। परिजन घायल को उपचार के लिए ट्रामा सेंटर ले गए, जहां तीन दिन बाद घायल नवमी बिंद की मौत हो गयी। मौत के बाद परिजन शव लेकर लौटे तो धानापुर पुलिस शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम हाउस ले आई, जहां परिजनों द्वारा पंचनामा पर दस्तख्त करने से इन्कार कर दिया गया। साथ ही यह आरोप लगाया कि पुलिस ने अपनी रिपोर्ट बदल कर मामले को सड़क हादसा दिखाने का प्रयास कर रही है, जबकि मामला हत्या का है। अंततः एसपी डा. अनिल कुमार ने प्रकरण की जांच के लिए धानापुर थाना प्रभारी को निर्देशित किया कि प्रकरण की जांच करें। फिलहाल शव के पोस्टमार्टम की प्रक्रिया स्थगित कर दी गई।

इस बाबत एसपी चंदौली डॉ अनिल कुमार ने बताया कि मामला संज्ञान में है. शव का पोस्टमार्टम पैनल की निगरानी में कराया जाएगा. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद अग्रिम कार्यवाही की जाएगी।

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page