12.4 C
Varanasi

चंदौली पुलिस की कम्युनिटी पुलिसिंग : नक्सल प्रभावित इलाके की महिलाओं को बना रही आत्मनिर्भर

Published:

Chandauli news : नक्सल प्रभावित क्षेत्रों की महिलाओं को आत्म निर्भर व स्वावलंबी बनाने के लिये चंदौली पुलिस द्वारा लघु कौशल विकास योजना के तहत किये गये अपने प्रयास का निर्भया दिवस पर जायजा लेने पंहुचे जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने महिला अभ्यर्थियों को स्वेटर बांटे. जाड़े के मौसम में लगन से प्रशिक्षण ले रही आधी आबादी को अधिकारियों ने खूब आगे बढ़ने और इस जज्बे को उम्रभर कायम रखने के लिये प्रेरित किया. स्वेटर पाकर बेटियों व महिलाओं की खुशी का ठिकाना नहीं रहा.

लघु कौशल विकास योजना के तहत पूर्व में थाना नौगढ परिसर में पुलिस अधीक्षक डाक्टर अनिल कुमार के मार्गदर्शन में ग्राम्या संस्थान नौगढ के सहयोग से नौगढ व आस पास के क्षेत्र के बालिकाओं के स्वावलंबन के दृष्टिगत ब्यूटीशियन कोर्स का निःशुल्क प्रशिक्षण दिया जा रहा है. यह कार्यक्रम लघु कौशल विकास पर केन्द्रित है, जिसके माध्यम से अशिक्षित कम पढे-लिखे बालिकाओं/महिलाओं को स्वरोजगार व रोजगार उपलब्ध कराना है. साथ ही कभी कोई बेटी निर्भया जैसी दरिंदगी का शिकार न हो पाए इसके लिये उन्हें सशक्त बनाना है.

पुलिस अधीक्षक चन्दौली डॉ. अनिल कुमार व ग्राम्या संस्थान द्वारा चलाये जा रहे इस लघु कौशल विकास ट्रेनिंग सेंटर कि मदद से क्षेत्र की महिलाओं व बालिकाओ को कौशल संबंधी विभिन्न जानकारियां मिल पायेगी. इससे स्थानीय लोगों को बेहतर रोजगार से जोड़ा जा सकता है तथा ब्यूटीशियन कोर्स से जुड़ी महिलाओं व बालिकाओ को ट्रेनिंग सर्टिफिकेट भी दिया जाएंगा.

लघु कौशल विकास योजना के अंतर्गत पूरे जनपद में इस तरह के ट्रेनिंग सेंटर चलाए जाएंगे. जिसमें ब्यूटीशियन कोर्स, होटल मैनेजमेंट, राफ्टिंग और टूरिस्ट गाइड के क्षेत्र में करियर तलाश रहे महिलाओं व बालिकाओ को विभिन्न जानकारियां दी जाएगी. जिससे बालिकाओं व महिलाओं को स्वरोजगार के साथ वाराणसी, मुगलसराय व नौगढ़ के आस पास के क्षेत्रों मे कालेज, हॉस्पिटल्स, होटल मैनेजमेंट, राफ्टिंग और टूरिस्ट गाइड इत्यादि में रोजगार प्राप्त हो सके.

महिलाओं व बालिकाओ के स्वावलंबन के दृष्टिगत संचालित इस ब्यूटीशियन कोर्स को बढावा देने व बालिकाओं व महिलाओं को प्रोत्साहित करने के लिये आज शनिवार को जिलाधिकारी निखिल टी फुंडे और पुलिस अधीक्षक चन्दौली डॉ अनिल कुमार थाना नौगढ पहुँचे और वहां निःशुल्क ब्यूटीशियन कोर्स प्रशिक्षण को बढावा देते हुए प्रशिक्षण में शामिल सभी बालिकाओं व महिलाओं को स्वेटर वितरित किया गया. स्वेटर पाकर छात्राओ के चेहरे खिल उठे.

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक चन्दौली ने कहा कौशल विकास प्रशिक्षण एक ऐसा महत्वाकांक्षी कार्यक्रम है, जिसके द्वारा महिलाओं व बालिकाओ के कौशल विकास का प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा. यहाँ यह स्पष्ट करना होगा कि कम्युनिटी पुलिसिंग के इस प्रयास के अन्तर्गत अशिक्षित या कम पढ़े महिलाओं व बालिकाओ को आत्मनिर्भर बनाना मुख्य उद्देश्य हैं. यह आत्मनिर्भरता छोटे-छोटे कौशल या हुनर सिखाने के लिये किया जायेगा. जिससे ये महिलाएं व बालिकाएं आत्म निर्भर व स्वालम्बित हो सके. साथ ही कभी कोई बेटी निर्भया जैसी दरिंदगी का शिकार न हो पाए इसके लिये उन्हें मिशन शक्ति के तहत और जागरुक व सशक्त बनाने का प्रयास सतत जारी है.

अपर पुलिस आपरेशन सुखराम भारती ने कहा कि छात्राओं को अच्छी शिक्षा व संस्कार प्राप्त कर भविष्य में अपने पैरों पर खड़े होकर अपने माता-पिता व गांव का नाम रोशन करना चाहिए. निर्धन व वंचित विद्यार्थियों को सुविधा मुहैया करके उन्हें शिक्षित व संस्कारी बनाने के लिए हम प्रयासरत है. उन्होंने बच्चों को शिक्षा प्राप्त कर श्रेष्ठ पदों पर पंहुचकर देश सेवा करने के लिए अग्रसर रहने की प्रेरणा दी.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page