12.4 C
Varanasi

पूजा के दौरान पंडालों में अश्लील गाने बजे तो होगी कार्रवाईः जिलाधिकारी

Published:

Chandauli news : जिलाधिकारी निखिल टी फुंडे एवं पुलिस अधीक्षक डा. अनिल कुमार की अध्यक्षता में आगामी दुर्गापूजा, दशहरा, दीपावली, छठ आदि त्यौहारों के दृष्टिगत शनिवार को पुलिस लाइन सभागार में बैठक हुई। इसमें त्यौहारों पर सुरक्षा, शान्ति एवं कानून-व्यवस्था बनाए रखने को लेकर चर्चा की गई। साथ ही सौहार्द एवं शांतिपूर्ण तरीके से पर्व मनाने के लिए शासन से जारी निर्देशों का पूर्णत: पालन करने का निर्देश दिया गया। चेतावनी देते हुए कहा कि अगर अश्लील गाने बजाए गए तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।


जिलाधिकारी ने कहा कि प्रत्येक पंडाल, कार्यक्रम स्थल पर कमेटी के सदस्य यह सुनिश्चित करें कि पंडाल वाटरप्रुफ बनाया जाए। आग से बचाव के पुख्ता इंतजाम किए गए जाएं। सुरक्षा के दृष्टिगत सीसीटीवी कैमरे अवश्य लगाए जाएं। अराजकतत्वों की सूचना पुलिस को देने व किसी भी अफवाहों पर विश्वास न करने की नसीहत दी गई। साथ ही सभी को सोशल मीड़िया दुरूपयोग के संबंध में भी सचेत व जागरूक किया।

उन्होंने कहा कि भ्रामक व असत्य संदेशों पर बिल्कुल भी ध्यान न दें। इस तरह के किसी भी प्रकार के संदेश व वीडियो आदि भी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर प्रसारित न करें। कहा कि प्लास्टिक का प्रयोग न करें। जल्द ही इसके विरुद्ध अभियान चलेगा। विसर्जन स्थल पर आवश्यकतानुसार बैरिकेडिंग, साफ-सफाई समय से कर लिया जाए। डीजे साउंड पर अश्लील गाने नहीं बजने पाए। डीएम ने फूड सेफ्टी की जांच रैंडम किए जाने के निर्देश अपर जिलाधिकारी और सभी उपजिलाधिकारियों को दिया।

जिलाधिकारी कहा कि सभी पंडालों में अग्निशमन फायर सिस्टम अवश्य रखा जाए। नदी में प्रतिमा को विसर्जित न किया जाए। तालाबों एवं नहरों में विसर्जित किया जाए। शांति सौहार्द को बिगाड़ना वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सोशल मीडिया पर लगातार सतर्क दृष्टि रखी जा रही है। यदि किसी को ऐसा करते पाया गया तो उसके विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी।

दुर्गा-पूजा के पंडाल सड़कों पर न बनाएं, दुर्गा-पूजा के मेलों में अधिक संख्या में भीड़ भाड़ वाले स्थानों पर चैन स्नेचिंग न होने पाए। इसके लिए पुलिस बल भीड़ भाड़ वाले स्थानों पर लगातार गश्त करेगी। भीड़ भाड़ वाले स्थानों पर पूजा समिति दोपहिया व चारपहिया वाहनों के लिए पार्किंग की व्यवस्था जरूर कराए। पूजा पंडालों में कहीं भी अश्लील गाने नहीं बजेंगे। प्रतिमाओं की नियत साईज में स्थापना किया जाए। किसी नये परम्परा को शुरू न किया जाए।

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page