37.1 C
Varanasi

Watch video : चन्दौली में पुलिस टीम की पिटाई, भागकर बचाई जान , ये है वजह…

Published:

The News Point (चंदौली) : चकिया कोतवाली अंतर्गत मंगरौर गांव में शुक्रवार की देर रात साढे दस बजे गिट्टी लदी अनियंत्रित बोगा ट्रैक्टर की चपेट में आने से किशन 18 वर्ष की घटनास्थल पर दर्दनाक मौत हो गई. घटना के बाद गुस्साये ग्रामीणों ने ट्रैक्टर चालक के न मिलने पर मौके पर मौजूद पीआरबी के जवानों की जमकर धुनाई कर दी. सूचना मिलने पर सैदूपुर चौकी प्रभारी दुर्गा दत्त यादव सहित कई पुलिस कर्मियों के मौके पर पहुंचने के बाद पीआरबी के जवानों की जान बच पाई. वहीं ग्रामीणों ने शव को मंगला मां मंदिर के समीप सड़क पर रखकर रात में ही चक्का जाम कर दिया. देर रात मान मनौवल के बाद ग्रामीण माने और पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए लिए भेजा गया.

वायरल वीडियो…

दरअसल मंगरौर गांव निवासी पीआरडी जवान रमाशंकर साहनी के आठ पुत्रियों के बाद किशन इकलौता पुत्र था. इलिया-चकिया मार्ग पर मंगरौर गांव में अपने घर से कुछ दूरी पर साथियों के साथ सीएनजी ऑटो के पास किशन खड़ा था, इसी बीच तेज रफ्तार में बड़े डाला वाली बोगा ट्रैक्टर की चपेट में आने से किशन की घटनास्थल पर ही मौत हो गई. घटना के बाद चालक ट्रैक्टर लेकर सैदूपुर की तरफ भाग रहा था. इधर किशन की मौत से गुस्साये ग्रामीणों ने ट्रैक्टर का पीछा कर बरहुआ गांव के पास पकड़ लिया. वहीं ड्राइवर अंधेरे का लाभ उठाकर फरार हो गया.

वहीं मौके पर मौजूद पीआरबी के जवानों पर चालक को भगाने का आरोप लगाकर ग्रामीणों ने पुलिस वालों की जमकर धुनाई शुरू कर दी. ग्रामीणों की पिटाई से बुरी तरह जख्मी हो चुके पीआरबी के जवानों की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस फोर्स में जान बचाई. घटना के बाद ग्रामीणों ने इलिया चकिया मार्ग पर मगरौर गांव के मंगला मंदिर के समीप शव को सड़क पर रखकर रात में ही चक्का जाम कर दिया और उच्चाधिकारियों के मौके पर आने की मांग करने लगे. रात्रि 2 बजे की लगभग पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे पुलिस क्षेत्राधिकारी आशुतोष ने ग्रामीणों को समझा बूझाकर शव को कब्जे में लिया और चकिया स्थित जिला अस्पताल के मर्चरी में रखवा दिया.घटना के बाद मृतक के परिवार में कोहराम मच गया. मृतक की मां सहित पूरे परिवार वालों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया. वहीं घटना के बाद गांव में मातम छाया हुआ है.मृतक 8 बहनों का इकलौता भाई था. 

इस बाबत सीओ चकिया आशुतोष ने बताया कि शुक्रवार की देर रात चकिया थाना अन्तर्गत ग्राम मंगरौर  के पास माल वाहक वाहन व आटो से धक्का लगने के कारण किशन कुमार की मौके पर मृत्यु हो गई थी. जिसकी सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे PRV वाहन से आक्रोशित ग्रामीणों द्वारा अभद्रता की गई. जिसकी सूचना मिलते ही तत्काल चकिया पुलिस द्वारा मौके पर पहुंच कर परिजनों को समझा-बुझा कर स्थिति को नियंत्रण में ले लिया तथा शव को अपने कब्जे में लेते हुए बाद पंचायतनामा पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा गया है. माल वाहक वाहन को कब्जे में लेकर परिजनों से प्राप्त तहरीर के आधार अन्य आवश्यक विधिक कार्यवाही प्रचलित है.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page