43.1 C
Varanasi

चन्दौली लोकसभा चुनाव 2024 : सपा प्रत्यासी वीरेंद्र सिंह के खिलाफ एकजुट हो रहे PDA संगठन, अखिलेश यादव से प्रत्यासी बदले जाने की कर रहे मांग….

Published:

Chandauli news : लोकसभा चुनाव 2024 में जीत का चौका लगाने की फिराक में सपा समेत INDIA गठबंधन ने PDA का नारा देकर पिछड़े दलित और अल्पसंख्यक को साधने का प्रयास किया. लेकिन चन्दौली में लोकसभा प्रत्यासी के टिकट घोषणा के बाद उनका यह नारा बुलंद होने की बजाय उसकी धार कुंद होती दिखाई दे रही है. वहीं इस वर्ग से जुड़े लोग व संगठन खुद को ठगा महसूस कर रहे है. सड़क पर चल रहे विरोध प्रदर्शन के बाद उनकी यह नाराजगी राजनीतिक संगठन का रूप लेती दिख रही है. जहां खुद को इंडिया गठबंधन का हिस्सा बताते हुए व्यवस्था परिवर्तन मोर्चा का निर्माण कर पीडीए को उसका हक देने की मांग कर रहे है. 

मुख्यालय स्थित विश्वनाथ चौराहा पर आयोजित बैठक में व्यवस्था परिवर्तन मोर्चा के घटक दलों के जय भारत समानता पार्टी , राष्ट्रीय कृषक दल, राष्ट्र उदय पार्टी, अपनी पार्टी, बामसेफ,जन अधिकार पार्टी, किसान न्याय मोर्चा, बहुजन मुक्ति मोर्चा, अपना दल (कमेरा वादी) तथा समाजवादी पार्टी एवं कांग्रेस के नेता शामिल रहे. 

इस दौरान हेमन्त कुशवाहा ने कहा कि 76 लोकसभा चंदौली से इंडिया गठबंधन का प्रत्याशी 15 प्रतिशत से दिया गया है, और 85 प्रतिशत PDA मतदाताओं की उपेक्षा की गई है. INDIA गठबंधन के नेताओं को पत्र भेज कर और मिलकर PDA के लोग अपनी बात रखेंगे और आगामी 10 मार्च को चंदौली धरना स्थल पर बड़ा सम्मेलन कर अगली रणनीति पर विचार विमर्श किया जाएगा. 

वहीं शमीम मिल्की ने कहा कि सपा की तरफ घोषित प्रत्यासी वीरेंद्र सिंह न तो PDA से है, और न ही भरोसेमंद है. उनका पिछला राजनीतिक इतिहास भरोसे के लिए लायक है. हाल ही में हुए राज्यसभा चुनाव में भी पीडीए के लोगों को धोखा मिला है. सपा के सिंबल पर चुनाव जीतकर आये 15 प्रतिशत आबादी के लोगों ने ही धोखा देने का काम किया है.

बैठक में प्रमुख रूप से हेमंत कुशवाहा, महेंद्र प्रसाद यादव, शमीम मिल्की, प्रोफेसर श्रीराम सिंह चौहान, इंद्रजीत शर्मा, विनय कुशवाहा, सलमा किन्नर, गुरुपुरन पटेल, तस्लीम, श्रीराम यादव, सुशील कुमार लोग उपस्थित है. अध्यक्षता कृष्णकांत यादव ने किया जबकि संचालन वीर बहादुर मौर्य ने किया.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page