36.4 C
Varanasi

भ्रष्टाचार : विजिलेंस ने पकड़ा करोड़ो का घोटाला,RPF जवानों और कर्मियों के एरियर से छेड़छाड़ कर किया गया गोलमाल

Published:

Chandauli news : पीडीडीयू नगर रेलवे के वरीय मंडल सुरक्षा आयुक्त कार्यालय से आरपीएफ जवानों और कर्मियों के एरियर में छेड़छाड़ कर डेढ़ करोड़ रुपये से अधिक का गोलमाल करने का मामला सामने आया है. इसका खुलासा हाजीपुर की विजिलेंस टीम की जांच में हुआ है. आरपीएफ कमांडेंट ने आरोपी कर्मचारी को निलंबित कर दिया है. वहीं आरोपी कर्मचारी फरार है. विभाग आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी करने का मुकदमा दर्ज कराने की तैयारी में है.

विदित हो कि वरीय मंडल सुरक्षा आयुक्त कार्यालय में तैनात युवराज सिंह जवानों व विभागीय कर्मियों का वेतन, एरियर आदि के भुगतान का काम करता था. वह विभागीय कर्मचारियों व जवानों के आई पास को डिकोड कर एरियर को बढ़ाकर रिपोर्ट भेज देता था. इसके बाद एरियर के बढ़े धन को अन्य खाते में ट्रांसफर कर देता था. इसकी भनक कई साल तक किसी को नहीं लगी. कुछ दिन पहले इसकी भनक आरपीएफ कमांडेंट जेथिन बी राज को लगी. कमांडेंट ने इसकी शिकायत हाजीपुर विजिलेंस अधिकारियों से की.

शिकायत मिलने पर मंगलवार की देर रात विजिलेंस के तीन अधिकारियों का दल कमांडेंट कार्यालय में पहुंचकर छानबीन शुरू कर दिया. जांच प्रक्रिया बुधवार की देर रात तक चलता रहा. जांच के दौरान पता चला कि कमांडेंट कार्यालय का कर्मचारी युवराज सिंह विभागीय जवानों व कर्मचारियों के एरियर से छेड़छाड़ कर डेढ़ करोड़ से ज्यादा की रकम का गोलमाल कर चुका है. आरपीएफ कमांडेंट ने प्रथम दृष्टया आरोपी कर्मचारी को निलंबित कर दिया है. वही जांच पड़ताल की आहट मिलते ही आरोपी फरार हो गया है. हालांकि विभाग आरोपी के खिलाफ जांच के अलावा धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराने की तैयारी में जुटा है.

इस संबंध में सूचना अधिकारी दीपक कुमार ने बताया कि कमांडेंट कार्यालय के एक कर्मचारी के खिलाफ एरियर का लाखों रुपये के हेर फेर करने का मामला प्रकाश में आया है. आरोपी को निलंबित कर मामले की छानबीन कराई जा रही है.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page