36.1 C
Varanasi

Chandauli news : पुलिस ने आरक्षी अनुज सिंह को किया गिरफ्तार, लुटेरी दुल्हन गैंग को संरक्षण देता था अनुज, ऑनलाइन ट्रांजेक्शन बना गले की फांस…

Published:

Chandauli news : गैर प्रान्त के युवाओं को शादी का झांसा देकर उन्हें लूटने वाली चंदौली की लुटेरी दुल्हन और उसके गैंग को संरक्षण देने के आरोप में पुलिसकर्मी को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया. सिपाही अनुज सिंह शहाबगंज थाने में तैनात था. इसके पहले पुलिस ने आरोपी दुल्हन समेत चार अभियुक्तों को गिरफ्तार किया था. 

विदित हो कि 27 दिसंबर को कोतवाली में एक प्रार्थना पत्र प्राप्त हुआ कि संजय सिंह पुत्र गोपाल सिंह निवासी भरतपुर (राजस्थान)  से शादी के लिये कुछ लोगों ने बात की. चंदौली के सोनू ने संजय सिंह को शादी के लिए बुलाया. युवक अपने भाई भूपेन्द्र व भाभी पूनम के साथ आया था. सोनू व उसके साथी राजू कृष्णा ने संजय कि शादी एक महिला सुमन सोनकर डुमरी वाराणसी से भारत रेस्टोरेन्ट में सोनू व उसके साथी राजू कृष्णा के उपस्थिति में कराई.संजय सुमन सोनकर को अपने साथ लेकर अपने गांव जा रहा था तो रास्ते में सुमन बैग में रखा 12 हजार रुपए चुराकर भाग गई. 

पुलिस अधीक्षक डॉ. अनिल कुमार ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपियों को पकड़ने के लिए टीम गठित कर दी. लुटेरी दुल्हन और उसका गैंग पुलिस के हत्थे चढ़ गया. विवेचना के दौरान थाना शहाबगंज पर नियुक्त आरक्षी अनुज कुमार सिंह का नाम प्रकाश में आया. पता चला कि आरक्षी अनुज कुमार सिंह भी गैंग का सदस्य था और बकायदा संरक्षण प्रदान कर रहा था. पुलिस ने सूचना पर मुस्तफापुर भठ्ठा के सामने आरक्षी को गिरफ्तार कर लिया. अनुज कुमार सिंह (आरक्षी) ने बताया की थाना चंदौली में मुकदमा दर्ज होने के बाद बचने के लिए भागने की फिराक में वाहन का इंतजार कर रहा था. लुटेरी दुल्हन प्रकरण में शादी करवाने में सम्मिलित रहा शादी करने के एवज आठ हजार रुपए भी गूगल पे जरिये मिले थे.

सम्बंधित पोस्ट

लेटेस्ट पोस्ट

spot_img

You cannot copy content of this page